पायल की कामवासना | Desi Bhabhi Hindi Story

0
166
Hot Adult Story (Deshi Bhabhi)
Hot Adult Story (Deshi Bhabhi)

दोस्तों ये Hindi Desi Bhabhi Story एक ऐसे पति की है, जो शादीशुदा होकर भी। एक सुंदर और हॉट बीवी के होते हुए भी हाथ से काम चलाने पर मजबूर हो गया था। यानी मांगने पर बीवी देती ही नहीं थी। हर बार कोई ना कोई नई समस्या बताकर टाल देती थी। जिसके कारण पति को बाथरूम में जाने के लिए मजबूर होना पड़ता था।
लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ कि उसकी मस्त हॉट बीवी ने उसे देना शुरू कर दिया। अब कोई बहाना या समस्या उसकी पत्नी के साथ नहीं थी। जब पति कहे, तो बीवी तैयार! कभी-कभी तो बीवी पहले चढ़ाई कर देती थी। आखिर ये चमत्कार हुआ कैसे था? ये सब सुनिये इस मजेदार Romantic Kahani में..

आप यह Hindi Desi Kahani, MastRamKiKahani.com पर पढ़ रहे हैं..

पति का नाम है राज और पत्नी का नाम है पायल। दृश्य कुछ ऐसा है कि रात को बेडरूम में राज और पायल के बीच बहस चल रही है। राजू जोर से बोला..

‘‘पायल तुम दे रही हो कि नहीं?’’

‘‘कितनी बार कहूं नहीं.. मेरे सिर में दर्द है।’’

‘‘सिर दर्द तो तुम्हार कल रात को भी था।’’

‘‘वो परसों रात को था, कल तो बदन दर्द था।’’

MastRami Story Hindi - Desi Bhabhi
MastRami Story Hindi – Desi Bhabhi

इस पर राज बौखला गया, ‘‘वही तो समझ में नहीं आ रहा साला मुझे। सारी समस्याएं तुम्हारे साथ ही क्यों लगी रहती हैं। हर बार नया बहाना। कभी तुम्हारा सिर दर्द, कभी बदन दर्द, कभी थकान हो गई। कभी कमजोरी महसूस हो रही है। कभी कहोगी कि मुझे पीरियड्स शुरू हो गये। वो तो छोड़ो कभी-कभी तो कहोगी पीरियड्स टाइम पर नहीं आ रहे, इसी चिंता में मन नहीं कर रहा कुछ करने का ना करवाने का।’’

इस पर पायल भी तैश में आकर बोली, ‘‘अच्छा तो मैं ये सब बहाने बनाती हूं। झूठ बोलती हूं।’’ पायल ने याद कराते हुए कहा, ‘‘पहले नहीं देती थी तुम्हें। कभी मना किया। जैसे कहते थे, वैसे देती थी। कुछ भी करवाते थे, हर बात मानती थी।’’

राजू बौखला कर बीच में ही बोल पड़ा, ‘‘तो वही तो पूछ रहा हूं कि अब क्या भसौड़ी हो गई। क्यों तुम्हारा मूड नहीं होता।’’

‘‘ऐसा भी नहीं है कि मैं बिल्कुल नहीं देती तुम्हें।’’ पायल ने बात संभालने की कोशिश करते हुए कहा, ‘‘भले ही महीने में एक या दो बार ही सही, पर देती तो हूं ना।’’

‘‘बहुत बड़ा एहसान करती हो पायल जी आप। मैं तो तुम्हारे एहसान तले दब गया। आखिर कैसे उतारूंगा मैं तुम्हारे ये एक-दो एहसान।’’ राज जैसे ताना कसते हुए बोला, ‘‘महीने में जो एक या दो बार देती भी हो, ऐसे देती हो, जैसे कि मैं तुम्हारा बलात्कार का रहा हूं। एकदम ठंडी पड़ी रहती हो। मैं तुम्हारे संतरों को पकड़े हुए रहता हूं और तुम अपना सिर पकड़े हुए रहती है। ऐसे में क्या घंटा मजा जायेगा। क्या फायदा ऐसे देने से।’’

किसी भी सेक्स समस्या के लिए.. SexSamasya.com

‘‘हां..हां सही कह रहो। तभी तो नहीं देती।’’ पायल भी बिगड़ कर बोली, ‘‘तुम मेरी समस्या को बहाने समझते रहो और मुझसे चाहते हो कि तुम्हें मजे लेकर-लेकर कर दूं।’’

ऐसे ही दोनों की बहस चलती रही और आखिर में दोनों एक-दूसरे को कोसते हुए बेड पर करवट बदल कर सो गये।

पायल तो फिर भी सो गई थी। लेकिन राज को नींद नहीं आ रही थी। वो बड़ी बेचैनी महसूस कर रहा था। बहुत परेशान था पायल की ना-ना सुनकर। उसकी समस्याओं को सुनकर।

तभी राज को शादी की शुरूआत वाली रोमांटिक रातों की याद आने लगी। जब पायल मस्त तरीके से दिया करती थी.. उसके कहने से पहले ही पायल वो सब कर लेती थी, जो राज संभोग में पायल से चाहा करता था।

ऐसे ही एक मस्त रात राज को याद आ गई.. जब दोनों के तन पर एक भी वस्त्र नहीं था और दोनों बेड पर ऐसे लिपटे हुए थे, जैसे कभी अलग ही नहीं होंगे।

राज, पायल के गोल-गोल संतरों का रस मजे लेकर चूस रहा था। पायल भी आंखें बंद किये हुए राज के सिर को पकड़ कर संतरों पर सटा रही थी।

उसे बहुत मजा आ रहा था। उसने भी जोश में आकर राज के तोते को सहला शुरू कर दिया था। राज का तोता धीरे-धीरे तैश में आकर सख्त बिगडै़ल होता जा रहा था।

इस पर पायल मजाक में मुस्करा कर बोली, ‘‘तुम्हारा तोता इतना अकड़ क्यों रहा है। एक तो मैं ऐसे इतना प्यार कर रही हूं। सहला रहा हूं और ये है कि अकड़ कर तनता जा रहा है।’’

इस पर राज को भी हंसी आ गई और वो भी मस्ती करता हुआ बोला, ‘‘तो उतार दो मेरे तोते की सारी अकड़। डाल दो साले को अपने नीचे की अंधेरी कोठरी में। यही सजा है इसकी।’’

राज की ऐसी बातें सुनकर पायल जोर से हंस पड़ी और बोली, ‘‘बड़े ही शैतान हो तुम। समझ रही हूं तुम्हारा मतलब।’’ फिर बोली चलो ऐसा ही सही।

कहकर पायल ने राज के तोते की गर्दन पकड़ी और डाल दिया अपनी अंधेरी कोठरी में। फिर बोली, ‘‘ये लो कैदी गया जेल के अंदर। अब तुम इसकी अच्छे से रिमांड लो। खूब जोर-जोर से इसका सिर मेरी अंधेरी कोठरी की दीवारों पर पटको।’’

पायल पूरी तरह मदहोश हो चुकी थी। वो भी राज को जहां-तहां चूमे जा रही थी। तभी राज बोला, ‘‘कैसा लग रहा है पायल।’’ पायल नशीली आवाज में बोली, ‘‘बहोत मजा आ रहा है। तुम बोलो मत करते रहो। मैं जल्दी ही निपटने वाली हूं। तब तक रूकना मत।’’

Hindi Sex Story
Hindi Sex Story

राज मुस्कराया और बोला, ‘‘जो हुकुम मैडम।’’

फिर राज ने जोर से तोते का सिर पटका, तो पायल चीखी, ‘‘आह! अरे सजा तोते को देनी है। मुझे नहीं। जरा आराम से सिर पटको इसका।’’

‘‘ठीक है मेरी जान।’’ कहकर राज धीरे-धीरे प्यार से तोते का सिर आगे-पीछे करता हुआ पायल की अंधरी कोठरी में पटकता रहा।

इस पर पायल मस्ती के आलम में पहुंच कर बोली, ‘‘ओह! राज बिल्कुल सही रिमाण्ड ले रहो तुम तोते की।’’ बुरी तरह लिटपते हुए बोली पायल, ‘‘पटकते रहो इसका सिर।’’

आप यह Hot Romantic Kahanai, MastRamKiKahani.Com पर पढ़ रहे हैं..

पायल पूरी तरह मदहोश हो चुकी थी। वो भी राज को जहां-तहां चूमे जा रही थी। तभी राज बोला, ‘‘कैसा लग रहा है पायल।’’

पायल नशीली आवाज में बोली, ‘‘बहोत मजा आ रहा है। तुम बोलो मत करते रहो। मैं जल्दी ही निपटने वाली हूं। तब तक रूकना मत।’’ पायल नशीली आवाज में बोली, ‘‘बहोत मजा आ रहा है। तुम बोलो मत करते रहो। मैं जल्दी ही निपटने वाली हूं। तब तक रूकना मत।’’

फिर राज तब ही रूका जब पायल को ढेर कर दिया। यानी उसे चरमसुख तक पहुंचा दिया और खुद भी प्यार की बारिश पायल के नीचे की गुलाबी दुनियां में कर दी।

फिर जब राज ख्यालों की दुनियां से बाहर आया तो.. सामने पायल को नींद में देखकर.. उसका मन उदास हो गया… सोचने लगा.. कि हाय! वो भी क्या दिन हुआ करते थे.. जब पायल मस्त तरीक से देती थी.. अब देखों.. ऐसे सोयी है.. जैसे दे-देकर थक गई हो..

मसल्स, बॉडी और वजन बढ़ाने के लिए.. SehatKaiseBanaye.Com

अब राज ने सोच लिया.. कि ऐसे ही सारी जिंदगी वो नहीं गुजारने वाला… आखिर कब तक वो अपने हाथों से अपनी गर्मी बहाता रहेगा… पायल को अपने अंदर वो पहले जैसा जोश..मस्ती.. एक्साइटमेंट… और कामुकता लानी ही होगी.. अपनी कामेच्छा को बढ़ाना ही होगा..

फिर अपने आपसे ही सवाल करता हुआ मन ही मन बोला राज, ‘‘लेकिन कैसे? ….कैसे अपनी बीवी को दोबारा से जोशीली बनायेगा.. जब देखो तो सिर दर्द.. बदन दर्द.. कमजोरी, थकान.. पीरियड्स की गड़बड़ी.. ब्लीडिंग.. आखिर कैसे पायल के इन सब बहानों का इलाज किया जाये?’’

फिर अचानक जैसे राज को कुछ यादा आया हो… उसने पास ही पड़ा मोबाइल उठाया और उसमें लिखकर ढूंढने लगा… लेडिज हेल्थ प्रॉब्लम सॉल्यूशन।’’ कुछ ही देर में.. उसे स्क्रीन पर एक आयुर्वेदिक वेबसाइट दिखी.. वेनीटल डॉट कॉम (VaniTal.com).

Comeplet Health Solution For Women - VANITAL (HERBAL CAPSULE)
Complete Health Solution For Women – VANITAL (HERBAL CAPSULE)

उसने जब इसे लॉगऑन करके देखा.. तो पाया कि ये एक आयुर्वेदिक औषधी थी.. जिसका नाम था वेनीटल… ये दवा महिलाओं की हेल्थ के लिए ही थी… जैसे कि सिर दर्द, बदन दर्द, कमजोरी, थकान, मासिक धर्म की गड़बड़ी, सफेद पानी की समस्या वगैरह के लिए… ये सब देखकर राज के चेहरे पर जीत की मुस्कान दौड़ पड़ी। उसे लगा.. अब शायद उसकी समस्या दूर हो सकती है।

उसने वेबसाइट को ध्यान से पढ़ना शुरू किया तो उसे पता चला कि.. वेनीटल.. सिरप में,, कैप्सूल में.. और पाउडर में.. तीनो तरह से मौजूद है… राज को कैप्सूल ज्यादा कम्फर्टटेबल लगे और उसने वेबवाइट में दिये गये नंबर पर कॉल करके.. वेनीटल कैप्सूल ऑर्डर कर दिया…

जब दवा घर पहुंच गई तो.. राज ने पायल को भरोसे में लेकर कहा, ‘‘मैंने तुम्हारी समस्याओं के लिए आयुर्वेदिक दवा मंगाई है.. इसे खाओ.. और मेरी पहले वाली पायल बन जाओ..’’

पायल ने भी पति की बात मान ली.. और वेनीटल कैप्सूल खाना शुरू कर दिया.. धीरे-धीरे 15 से 20 दिन में पायल को फरक महसूस होने लगा… यहां तक कि राज ने भी महसूस किया.. कि अब उसकी बीवी एक्टिव रहने लगी है.. थकान,, कमजोरी.. अब बहोत कम महसूस करती है..; फिर जब लगातार 30 से 40 दिन पायल ने दवा खाई तो उसके बाद तो अंजलि को पूरा आराम मिलने लगा था..

कुल मिलाकर राज को अपनी पहले वाली बीवी मिल गई थी… यानी अब उसकी बीवी कोई बहाना नहीं मारती थी.. अब नो दर्द,, नो कमजोरी, नो थकान,, नो पीरियड्स की गड़बड़ी और नो सफेद पानी…. अब तो बस मस्त ही मस्त जवानी.. थी.. जिसका मजा दोनों खुलकर ले रहे थे…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here